Shipping in all over the world

cinnamon-indian

दालचीनी के १० फाएदे

दालचीनी के १० फाएदे

दालचीनी जो लगभग हर भारतीय गलियों में आसानी से मिलते है सर्फ एक मसाला भी नहीं वालकि एक ओषधि भी है।

इसमें महमूद एंटीऑक्सिडेंट्स गुण कई बीमारियों जैसे आर्थराइटिस डायबिटीज यहाँ थक की कैंसर से भी सुरक्षित रकता है । दालचीनी किश प्रकार आपकी स्वस्थ्य और शरीर केलिए लाभकारी है चाक जान लेत है।


दालचीनी के फायदे

एक नज़र डालते है की कैंसे दालचीनी आपके सेहद केलिए फायदेमंद है ।

१. आर्थराइटिस मैं दालचीनी

उमृ बडने के साथ साथ हमारा शरीर कमज़ोर हो जाता है और इस अवस्ता में हमारी हड़िया कमज़ोर होने लगती है हिज अवसर पर दालचीनी एक औषदि की तरह मदद करति है।  गट्टिया की भीमारी में राहत देने वाली पोषक तत्त्व जैसे आयरन कैल्शियम और मैंगनीज दालचीनी में मौजूद है । रहूमटॉइड आर्थराइटिस में होनेवाले दर्द और सूजन को कम करने में दालचीनी असरदार साबित हुआ है।

दालचीनी के तेल की तीन से चार बूँदे नारियल या सॉसो के तेल में मिलाकर हड्डियों की मालिश करने से दर्द से काफी हद तक राहत मेलति है ।

२. डायबिटीज में दालचीनी

लापरवाह जीवनशैली और खान पान की देश से कई लोग मधुमेह ला शिकार होरहा है।

यह आगे चलकर शरीर को भारी नुकसान पहुंचा देता है। आगे चलकर यह अन्य कई बीमारियों को जन्म देने लगती है।दालचीनी को अगर आहार में शामिल क़रते है तो मधुमेह पर काफी हद तक नियंत्रण लाया जा सकता है। दालचीनी में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट्स डायबेटिक्स होने के एक महत्वपूर्ण कारक ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करता है ।दालचीनी में जो फेनोलिक योगिक और फ्लैवोनॉइड मौजूद है एंटी इंफ्लेमेटरी एंटी बायोटिक एंटी कैंसर और कार्डिओ प्रोटेक्टिव गुण प्रदान करते है ।एक शोथ में बताया गाया है की दालचीनी ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मदद करता है . इसमें मौजूत पोलीफेनोल शरीर में इन्सुलिन क बेहतर करता है जिससे डायबेटिक्स की तीव्रतः कम होता है।

३. मस्तिष्क के लिए दालचीनी

दिमाग में लिए भी काफी फायदेमंद होती है दालचीनी। माना गाया है की दालचीनी की सुगंध मस्तिष्क की गतिविथि को बटाती है ।इससे न सिसिसिर्फ मस्तिष्क तेजी से काम करता है बल्कि इससे तनाव व चिंता से भी आराम मिलता है। दालचीनी की तेल को सूंधने से उनकी स्मरण शक्ति बटनेलगती है।इसके अलावा दालचीनी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण अल्झाइमर और पार्किंसन जैसे मस्तिष्क विकार से भी बचाता है ।

४. सर्दी और खासी में असरदार

दालचीनी में अंतिमिक्रोबियल्स और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण मौजूत है जो सर्दी–खासी से बचाव करते है। दालचीनी पाउडर दो या तीन लॉन्ग के साथ गरम पानी में मिलाकर दिन में दो या तीन बार पीने से सर्दी से राहत मिल जाती है।

५. रक्त परिसंचरण केलिए दालचीनी

दालचीनी में ऐसे यौगिक मौजूद है जो खून को पतला कर रक्त परिसंचरण को बटाथे है।  दालचीनी में मौजूत यह गुण धमनियों से जुडे बीमारीबीऔर दिल के दौरे से भी बचाता है । बेहतर रक्त परिसंचरण से दर्द कम होता है।

६. कोलेस्ट्रॉल और दिल के लिए दालचीनी के फायदे

हानिकारक कोलेस्ट्रॉल को कम करने में दालचीनी मदद करता है।  इससे दिल के दौरे का खतरा भी कम होता है । स्वस्थ्य जीवन केलिए ज़रूरी है की बाद कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को शरीर से कम किया जाये । एसा करने में दालचीनी आपकी मदद करता है। अगर आप दालचीनी को अपनी कॉफ़ी आदि में डालडाल इस्तेमाल करते है तो इससे शरीर में ल डी ल अर्थात बाद कोलेस्ट्रॉल व ट्राइग्लिसराइड के स्तर कम कर सकते है।

७. पाचन क्रिया केलिए फायदेमंद दालचीनी

पाचन तंत्र को बटाने में भी दालचीनी का योगदान है।  इसमें जो अंतिमिक्रोबियल्स गुण होता है पाचन तंत्र में संक्रमण का कारण बननेवाले बैक्टीरिया से लडता है और कैंडिडा नामक बीमारी से बचाव करता है। पाचन में सुथार लाने और जटर सम्बन्धी विकारो के लिए दालचीनी का उपयोग कर सकते है।

८. ब्लड प्रेशर की समस्या में दालचीनी से फायदे

आजकल उच्च और निम्न रक्तचाप की समस्या कई लोगो को परेशान करता है।  ऐसे में दालचीनी का सेवन से यह कई हद तक खाबु में लाया जा सकता है । टाइप २ डायबेटिक्स वाले मरीज़ो के लिए यह ज़्यादा फायदेमंद है| अध्ययनो से पताचलता है की दालचीनी रक्तचाप के स्थर को नियंत्रित करती है ।

९. इनफर्टिलिटी को कम करता है

दालचीनी एक एंटीऑक्सीडेंट है जो पोलीफेनोल यौगिकों का स्रोत है।  मोटापे से ग्रस्त लोगो में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करके इनफर्टिलिटी के खतरे को कम करता है।  दालचीनी डिम्ब ग्रंथि के साहि– साहि रूप से प्रवर्तन करने में मदद करता है और इनफर्टिलिटी से लड़ने में प्रभावशाली सिद्ध हो सकती है। अपने अनाज ,दलीय और दही पर दालचीनी पाउडर छिड़काव करके इसे आहार में शमिल करने से काफी हद तक  इनफर्टिलिटी की समस्या में दालचीनी फायदेमंद हो सकती है।

१०. मासिक धर्म के समय राहत

मासिक धर्म के समय की परेशानियाँ जैसे पेट दर्द मितली अधि से राहत मिलने केलिए दालचीनी का सेवन काफी मददगार साबित हुआ है।  दालचीनी के सेवन से ज़्यादा रक्त स्त्राव की परेशानी दर्द व मितली जैसी समस्याएं कुछ कम होती है। दालचीनी पाउडर के सेवन से महिलाओं को पोल्य्सिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम से भी राहत मिलती है।

११. कैंसर की चिकित्सा में प्रयोग

दालचीनी कैंसर की कोशिकावों की विकास को कम करता है और उन्हें फैल्ने से रोकता है।

दालचीनी पेट के एन्ज़इम्स को सक्रीय करता है जो इन्द्रियों को डेटोक्सीफी करके कोलोन कैंसर को फैलने से रोकता है। दालचीनी में एंटी कैंसर गुण मौजूत है ।  इसमें मौजूत पोलीफेनोलस मेलेनोमा त्वचा के कैंसर के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करता है।


१२. स्त द में दालचीनी के फायदे

दस्त यानि डायरिया की समस्या गलत खान पान या मौसम के वजह से होती है।  ऐसे में घरेलू उपाय अपनाया जाये तो फायदेमंद साबित हो सकता है.  दालचीनी डायरिया की समस्या को काफी हद तक काम करसकता है। दालचीनी के एंटी बैक्टीरियल और ओषधिय गुण दस्त में काफी मददगार साबित हुआ है।

 

१३. >गर्भावस्था में दालचीनी

महिलावो केलिए खान पान और अपने स्वस्थ्य का खाज ख़याल रखने का समय है —- गर्भावस्था ।  खाने में दालचीनी का सेवन उनकेलिए काफी फायदेमंद होगा. इसमें जो एंटीऑक्सीडेंट है सभी प्रकार के संक्रमण से बचाव करता है। गर्ब्वती महिलाये सिर्फ खाने में दालचीनी का प्रयोग करे और सीमित मात्रा में इस्क़ा सेवन करे।

१४. दालचीनी कब्ज और गैस केलिए

आज के जीवन शैली के कारण हैमर पेट की हालत ख़राब हो जाती है ।  कभी कब्ज तो कभी गैस की शिकायत हद एक दिन लगी रहती है. ऐसे में दालचीनी जैसे घरेलू ओषधि को अपने आहार में शमिल करेंगे तो पेट की समस्या काफी हद तक ठीक होसकती है।

१५. दर्द से राहत

हम किसी भी तरह का दर्द होने पर दर्द निवारक दवा ले लेते है जो हानिकारक साबित हो सकता है जो आगे चलकर पेट की समस्यावो का कारण भी बनसकते है । वही दालचीनी आपके काम आसकते है। दालचीनी हमारे शरीर में होने वाले कई तरह के दर्द जैसे दांत दर्द हड्डियों का दर्द व पेट का दर्द आदि में राहत देती है ।

दालचीनी के फ़ायदे बताया जाये थो समय कम पड़ जायेगा ।  दालचीनी खाने का स्वाद बटाने के साथ साथ स्वस्थ्य का भी ख्याल रकता है। अगर आप अभी तक दालचीनी का उपयोग नहीं करते है तो आज से ही इस चमत्कारी मसाले का उपयोग करके इसके फायदे का लाभ उठाये ।

 

दालचीनी को आज से अपने आहार में शामिल करे ।

Top
thottam-farmfresh
Spices

Thottam Farm Fresh Pvt. Ltd.
1/422A, Thuravoor P.O., Vathakkad
Angamaly, 683 572
Kerala, India
Ph: +91 9746712728
E: care@thottamfarmfresh.com

Follow Us Now